back to top

मारे गए आतंकवादियों की संख्या अमित शाह को किसने बताई, पीएम सच बताएं: कांग्रेस

नई दिल्ली। कांग्रेस ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह एवं केंद्रीय मंत्री एस एस अहलूवालिया की कथित टिप्पणियों को लेकर सोमवार को सरकार पर हमला बोला और कहा कि शाह को किसने बताया कि पाकिस्तान के बालाकोट में वायुसेना की कार्वाई में 250 आतंकी मारे गए। पार्टी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी इस मामले में जवाब देना चाहिए। पार्टी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर वायुसेना के जवानों की वीरता पर सवाल उठाने का भी आरोप लगाया और कहा कि उन्हें सशस्त्र बलों से माफी मांगनी चाहिए।

भाजपा ने कांग्रेस पर पलटवार करते हुए आरोप लगाया

उधर भाजपा ने कांग्रेस पर पलटवार करते हुए आरोप लगाया कि चोट आतंकवादियों एवं उनके प्रायोजकों पर लगी है, चीख कांग्रेस एवं उनके साथियों की निकल रही है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय मीडिया सवाल उठा रहा है तथा अमित शाह को बताना चाहिए कि उन्हें 250 आतंकवादियों की संख्या कहां से मिली है। सिब्बल ने ट्वीट कर कहा, अंतरराष्ट्रीय मीडिया का कहना है कि बालाकोट में वायुसेना की कार्वाई में एक भी आतंकी मारा नहीं गया। क्या अंतरराष्ट्रीय मीडिया पाकिस्तान समर्थक है? जब अंतरराष्ट्रीय मीडिया पाकिस्तान के विरुद्ध  बोलता है तो आप गौरवान्वित महसूस करते हैं लेकिन जब वह आपसे सवाल करता है तो क्या वह पाकिस्तान का मददगार हो जाता है? लोकसभा में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खडग़े ने कहा कि सशस्त्र बलों पर कोई सवाल नहीं कर रहा है। प्रधानमंत्री मोदी खुद सवाल कर रहे हैं, वह श्रेय लेना चाहते हैं।

हम अपनी सेना के साथ हैं

हम अपनी सेना के साथ हैं। हमें मोदी से देशभक्ति सीखने की जरूरत नहीं है। कांग्रेस प्रवक्ता आरपीएन सिंह ने संवाददाताओं से कहा, हमने सेना और वायुसेना पर कभी अंगुली नहीं उठाई। अमित शाह ने जवानों के पराक्रम का राजनीतिकरण किया है। उन्होंने कहा कि 250 लोग मारे गए। कहीं 300, कहीं 350 तो कहीं 250 लोगों के मारे जाने की बात हो रही है। हम पूछना चाहते हैं कि प्रधानमंत्री इस पर जवाब क्यों नहीं देते हैं? खबरों के मुताबिक शाह ने रविवार को कहा था कि वायुसेना की कार्वाई में 250 आतंकी मारे गए हैं। सिंह ने आरोप लगाया, प्रधानमंत्री ने वायुसेना को शर्मसार किया है क्योंकि उन्होंने कहा कि राफेल होता तो बेहतर नतीजे आते। एक तरह से उन्होंने वायुसेना की वीरता पर सवाल उठाए हैं। उन्हें हमारे सशस्त्र बलों से माफी मांगनी चाहिए।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा था कि

हाल ही में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा था कि पूरा देश एक स्वर में कह रहा है कि अगर राफेल होता तो परिणाम कुछ और होते। कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट कर कहा, मोदी जी, आपके केंद्रीय मंत्री टीवी चैनल की ख़बरों को यह कहकर झुठला रहे हैं कि बालाकोट हवाई हमले में 300 आतंकवादियों के मारे जाने की पुष्टि प्रधानमंत्री ने कभी नहीं की। क्या यह सच है? अगर नहीं तो प्रधानमंत्री देश को सच बताएं। कांग्रेस नेताओं ने वायुसेना प्रमुख बीएस धनोआ के उस बयान का भी हवाला दिया जिसमें उन्होंने कहा कि मरने वालों की संख्या लक्षित ठिकाने में मौजूद लोगों की संख्या पर निर्भर करती है, वायुसेना मरने वालों की गिनती नहीं करती। उधर, कांग्रेस पर निशाना साधते हुए केंद्रीय मंत्री एवं भाजपा नेता मुख्तार अब्बास नकवी ने सोमवार को आरोप लगाया कि चोट आतंकवादियों एवं उनके प्रायोजकों पर लगी है, चीख कांग्रेस एवं उनके साथियों की निकल रही है।

Latest Articles