back to top

जहरीली शराब से मौतों के लिए उत्तर प्रदेश सरकार जिम्मेदार: जहरीली शराब से मौतों के लिए उत्तर प्रदेश सरकार जिम्मेदार: भाकपा

लखनऊ। भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) के राज्य सचिव मण्डल ने उत्तर प्रदेश में जहरीली शराब से हो रही मौतों पर दुख और आक्रोश व्यक्त करते हुए इसके लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को जिम्मेदार ठहराया है और उनसे त्यागपत्र की मांग की है। भाकपा के राज्य सचिव गिरीश ने शनिवार को यहाँ जारी एक बयान में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर आरोप लगाया कि उनकी प्राथमिकता में उत्तर प्रदेश में सरकार चलाना नहीं अपितु लोगों को गुमराह करना और विपक्ष पर हमले बोलना है।

सारी ऊर्जा खपाए रहते हैं

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री प्रदेश के शासन पर ध्यान देने के बजाय राम, कुंभ, गाय, गंगा जैसे मुद्दों पर ही सारी ऊर्जा खपाए रहते हैं। यही वजह है कि राज्य की कानून व्यवस्था तार तार हो चुकी है और अब प्रदेश में लगभग 100 लोगों की मौत हो चुकी है। भाकपा राज्य सचिव ने आरोप लगाया कि संवेदनहीन सरकार और उसका प्रशासन मौतों का आंकड़ा कम करके दिखाने को शवों के पोस्टमार्टम न करके उन्हें स्वाभाविक मौतें बता रहा है।

योगी के सत्ता संभालने के बाद यह तीसरा बड़ा हादसा

योगी के सत्ता संभालने के बाद यह तीसरा बड़ा हादसा है जिसमें जहरीली शराब से बड़े पैमाने पर मौतें हुईं हैं। भाकपा ने कहा कि योगी सरकार इन मौतों के लिए सीधे तौर पर जिम्मेदार है। लोगों की सामूहिक मौतों के लिए जिम्मेदार योगी को इसकी नैतिक ज़िम्मेदारी लेनी चाहिए और अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए। भाकपा ने हर मृतक के परिवार को 25 लाख रुपए का मुआवजा और पीड़ितों को इलाज के लिए पांच लाख रुपए की सहायता प्रदान करने की मांग की है।

Latest Articles