back to top

दीपिका पादुकोण के किरदार बिना मुमकिन नहीं होती फिल्म “कल्कि”, डायरेक्टर नाग अश्विन ने किया खुलासा

मुंबई। ब्लॉकबस्टर फिल्म “कल्कि 2898 AD” ने हाल ही में रिलीज होने के साथ ही दुनियाभर के दर्शकों का ध्यान अपनी ओर खींचा है। दीपिका पादुकोण इस फ्यूचरिस्टिक एपिक फिल्म में लीड रोल में हैं, जिसमें उनकी एक्टिंग की खूब तारीफ हुई है। फिल्म के सबसे चर्चित सीन्स की बात करें तो, वह फायर सीन है, जिसमें दीपिका मौजूद हैं।

जब से कल्कि 2898 AD थिएटर्स में रिलीज हुई है, तब से दर्शक दीपिका को फिल्म की जान कह रहे हैं। फैंस और क्रिटिक्स ने दीपिका की फिल्म में दमदार प्रेजेंस और जबरदस्त परफॉर्मेंस की तारीफ की है। दीपिका पादुकोण का आज के बीच से चलने वाला सीन जो फिल्म के रिलीज के बाद वायरल हो गया, ने दुनिया भर की ऑडियंस को खूबसूरती से छुआ है। इस जबरदस्त विजुअल के कारण कई लोग उन्हें नई “खलीसी” कहने लगे हैं, जिससे उनकी तुलना “गेम ऑफ थ्रोन्स” के आइकॉनिक किरदार से की जाने लगी है।

हाल ही में एक इंटरव्यू में डायरेक्टर नाग अश्विन ने खुद इस सीन को पूरी फिल्म में अपना पसंदीदा बताया। उन्होंने कहा, “उस सीन का विजुअल और जिस तरह से दीपिका ने खुद को इतने संयम के साथ पेश किया, वह कमाल है। मैंने उनसे कहा कि अगर सब कुछ ठीक रहा, तो यह फिल्म का पोस्टर शायद हम दोनों से ज़्यादा समय तक ज़िंदा रहेगा।”

नाग अश्विन ने बिना किसी हिचकिचाहट के दीपिका की महत्वपूर्ण भूमिका पर जोर दिया। उन्होंने बताया कि राइटिंग के प्रोसेस के दौरान बहुत सारे चर्चाओं ने उनके किरदार के महत्व पर रोशनी डाली। उन्होंने आगे कहा, “वह कहानी की सबसे जरूरी हिस्सा हैं। जब हम लिख रहे थे तब इसपर हमने बहुत सारी चर्चा भी को थी। मुझे लगता है कि सबसे आसान जवाब जो हम तक पहुंचा वह यह था कि आप किसका किरदार हटा दें और कहानी ही न रहे? और वह दीपिका का किरदार बन गया। क्योंकि अगर आप उनका किरदार हटा दें तो कहानी ही नहीं बचेगी। कल्कि नहीं रहेगी।”

डायरेक्टर के इस बयान से यह साफ है कि फिल्म की रिलीज के बाद से फैंस क्या महसूस कर रहे हैं। यानी दीपिका पादुकोण सिर्फ “कल्कि 2898 AD” का हिस्सा नहीं हैं, बल्कि वे इसका सार हैं। “कल्कि 2898 AD” दर्शकों को आकर्षित कर रही है, दीपिका की भूमिका बिना किसी शक इस ब्लॉकबस्टर हिट की जान के रूप में याद की जाएगी। ‎

Latest Articles