back to top

रथ पर विराजमान होकर आज नगर भ्रमण पर निकलेंगे श्री जगन्नाथ

लखनऊ। भगवान जगन्नाथ रविवार 7 जुलाई को बलभद्र और माता सुभद्रा के साथ शहर भ्रमण के लिए निकलेंगे। वैसे तो भक्त अमूमन दर्शन के लिए मन्दिर जाते हैं पर साल में एक दिन आषाढ़ माह की द्वितीया तिथि को भगवान खुद भक्तों को दर्शन देने घर पहुंचते है। जगन्नाथ रथ यात्रा को लेकर तैयारी पूरी हो गई है। शहर भर में करीब आधा दर्जन स्थानों से जगन्नाथ रथ यात्रा निकलेगी। इस बार भगवान बनारसी वस्त्र पहनकर कहीं मेट्रो में तो कहीं चांदी की पालकी में सैर पर निकलेंगे। भक्त भगवान के रथ के आगे झाडू लगाकर मार्ग साफ करते रहेंगे।
डालीगंज स्थित श्री माधव मंदिर वार्षिक उत्सव में श्री जगन्नाथ महोत्सव कार्यक्रम की तैयारी अपने अंतिम चरणों पर चल रही है संस्थान महामंत्री अनुराग साहू ने बताया कि इस बार रथ यात्रा पुरी के तर्ज पर किया गया है जिसमें भगवान जगन्नाथ के श्री विग्रह जगन्नाथ पुरी से लाकर के प्राण प्रतिष्ठा पूजन करने के बाद श्री भगवान को नगर भ्रमण पर निकल जाएगा। इस बार भगवान जगन्नाथ जी का रथ आकर्षण का केंद्र रहेगा ।
कार्यक्रम की शुरूआत शाम 4:30 बजे से श्री जगन्नाथ में सुभद्रा बाय बलदेव भगवान के महाआरती करके छप्पन भोग प्रसाद लगाया जाएगा फिर श्री भगवान को रथ पर विराजमान करके नगर भवन पर निकलेंगे। रथ से प्रसाद में जामुन, मौसमी फल, बूंदी प्रसाद का वितरण किया जाएगा।

इत्र वर्षा करते हुए रथ यात्रा मार्ग पर स्वागतम करते हुए चलेगे:
जगन्नाथ जी रथ यात्रा माधव से प्रारम्भ होकर नजीरगंज, शंकरनगर, निरालानगर, श्रीकृष्ण मठ, आई टी चौराह, बाबूगंज, फैजाबाद रोड, इक्का अड्डा, डालीगंज पुल होते हुआ डालीगंज बाजार, हसनगंज कोतवाली, माधव मंदिर चौराह पर सम्पन्न होगी। रथ के यात्रा भक्तो द्वारा झाड़ू लगा कर अपनी सेवा देगे।

भ्रमण के बाद भगवान नौका विहार करेंगे:
श्री जगन्नाथ रथ यात्रा एवं नवरात्रि मेला प्रबंधन समिति की ओर से दोपहर 12 बजे जगन्नाथ रथ यात्रा निकाली जाएगी। भगवान जगन्नाथ, बलभद्र और माता सुभद्रा अलग-अलग रथ पर विराजमान होकर शहर भ्रमण पर निकलेंगे। यात्रा चौक स्थित काली जी मंदिर से शुरू होकर चौपटिया, अकबरी गेट, चौक चौराहा, लाजपत नगर से कुड़िया घाट होते हुए वापस मंदिर परिसर पहुंच कर समाप्त होगी।

झांकी संग निकलेगी यात्रा:
मारवाड़ी गली अमीनाबाद से स्वर्गीय महंत शत्रुघ्न दास रथ यात्रा कमेटी की ओर से भव्य भगवान जगन्नाथ रथ यात्रा निकाली जाएगी। 99वीं जगन्नाथ रथ यात्रा रविवार शाम 4 बजे मारवाड़ी गली से शुरू होगी। यात्रा फतेहगंज, गणेशगंज, नाका हिण्डोला, लाटूश रोड, कैसरबाग, नजीराबाद, हनुमान मंदिर अमीनाबाद होते हुए पुन: मारवाड़ी गली पहुंचकर समाप्त होगी। मुख्य पुजारी सूर्य प्रकाश पाठक ने बताया कि यात्रा में 10 रथों पर बाल झाकियां, पांच घोड़े व एक बैण्ड रहेगा।

हरे कृष्ण-हरे राम कीर्तन के साथ निकलेगी यात्रा:
श्री वैष्णो देवी सेवा संस्थान द्वारा अष्टम श्री जगन्नाथ रथ यात्रा महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है। महोत्सव में शाम 5 बजे राजाजीपुरम स्थित सेक्टर. 12 अमर शहीद पाण्डित राम प्रसाद विस्मिल पार्क से जगन्नाथ रथ यात्रा निकाली जाएगी। मीडिया प्रभारी अभय उपाध्याय निखिल ने बताया कि रथ यात्रा पार्क से शुरू होकर बाबा की बगिया, मिनी स्टेडियम ई ब्लॉक मार्केट से शक्ति चौराहा होते हुए वापस पार्क पहुंचकर समाप्त होगी। यात्रा के दौरान भक्त हरे कृष्ण हरे कृष्ण हरे राम हरे जाम जाप करते रहेंगे। भगवान को छप्पन व्यंजन का भोग लगाया जाएगा।

चांदी की पालकी पर विराजेंगे:
चौपटिया रानी कटरा स्थित चारों धाम मंदिर की रथयात्रा करीब 120 साल पुरानी है। यात्रा के संयोजक मंडल के सदस्य आशीष अग्रवाल ने बताया कि चांदी की पालकी व सिंघासन नवीन तरीके से तैयार हुआ है। सदस्य रिद्धि किशोर गौड़ ने बताया यात्रा रविवार दोपहर 12 बजे मंदिर से शुरू होकर देवी मंदिर चौराहा पहुंचेगी। उसके बाद भगवान जगन्नाथ बलभद्र भैया माता सुभद्रा लोगों को दर्शन देने के लिए दिलाराम बारादरी, चौपटिया, खेत गली का भ्रमण करेंगे।

अमीनाबाद मारवाड़ी गली
अमीनाबाद मारवाड़ी गली से भगवान श्री जगन्नाथ की यात्रा का 99वां आयोजन होगा। पुजारी ने बताया कि यात्रा में अष्टधातु की बनी 100 साल पुरानी श्रीराम जानकी, श्रीराधा कृष्ण और रामलला की प्रतिमाएं रथ पर निकाली जाएंगी। इस साल रथयात्रा गौरैया संरक्षण थीम पर निकाली जाएगीए जिसका लक्ष्य गौरैया संरक्षण के प्रति लोगों में जागरूकता लाना है। यात्रा में भक्तों द्वारा कई स्थानों पर पौशाला लगाया जाएगा। यात्रा गणेशगंज, गुरुद्वारा नाका, बांसमंडी, लाटूश रोड, कैसरबाग व नजीराबाद होते हुए अमीनाबाद स्थित हनुमान मंदिर पर संपन्न होगी।

56 प्रकार के भोग लगेंगे
रथ यात्रा में आये हर भक्त को जामुन, मीठे चावल, बूंदी प्रसाद स्वरूप वितरित की जाएगी तथा यात्रा सबसे आगे 15 फीट हनुमान रथ यात्रा की अगुवायी करते चलेगी। भजन गायक पवन मिश्र भी यात्रा के दौरान भजनो की वर्षा करेगा। इस्कॉन ब्रह्मचारी प्रभु द्वारा संकीतन हरे कृष्ण हरे कृष्ण…महामंत्र एवं जय जगन्नाथ जय जगन्नाथ… एवं हरि नाम संकीर्तन की वर्षा करेगे। देश विदेश भक्तो के लिए फेकबुक पेज पर लाइव प्रसारण दिया जाएगा। रथ यात्रा के मार्ग के पांच मुख्य स्थानों पर सेब, केला, अंगूर, आम, काजू, पिस्ता, बादाम, तीस से अधिक प्रकार की मिठाईयो का भोग लगाया जाएगा।


हरिनाम संकीर्तन से शुरू होगी इस्कॉन मंदिर की रथ यात्रा

लखनऊ। इस्कॉन मंदिर की ओर से सम्पूर्ण विश्व में जिस प्रकार से श्री जगन्नाथ जी की रथ यात्रा का भव्य आयोजन किया जाता है उसी के क्रम में श्री श्री राधा रमण बिहारी मंदिर (इस्कॉन) लखनऊ द्वारा 7 जुलाई रविवार को भगवान श्री जगन्नाथ जी की रथ यात्रा निकाली जायेगी। चारबाग रविन्द्रालय में जगन्नाथ जी की रथ यात्रा में होने वाले कार्यक्रमों में हरिनाम संकीर्तन अपरान्ह 2 बजे से शुरू होगी। इसके अलावां प्रवचन एवं कथा देवकी नंदन प्रभुजी, आरती एवं रथयात्रा प्रारम्भ अपरान्ह 4 बजे से होगी। रथ यात्रा समापन जहांगीराबाद पैलेस के पास रात्रि 8 बजे होगी और दिव्य प्रसादम भंडारा वितरित किया जायेगा। रथ यात्रा अपरान्ह 04:00 बजे रविंद्रालय चारबाग से प्रारम्भ होकर बासमंडी चौराहा से हीवेट रोड पर चलकर दाहिने कैंट चौराहा (बर्लिंगटन) से बांये नावेल्टी सिनेमा होते हुए हलवासिया तिराहे से दाहिने हजरातगंज चौराहा होकर वापस चौराहे मुड़कर हलवासिया होते हुए जहांगीराबाद पैलेस लॉन में समाप्त होगी।

श्री जगन्नाथ को लगेगा 256 प्रकार का भोग
जगन्नाथ जी की रथ यात्रा के दौरान होने वाले मुख्य आकर्षण अचिंत्यरुपिणी माता जी के दिशा निर्देशन मे मुकुंदा रॉक बैंड की प्रस्तुति, हाथी, ऊँट, घोड़ा एवं विशेष साज-सज्जा से बनाये गए रथो पर भगवान जगन्नाथ जी, सुभद्रा महारानी, बलदेव महाराज एवं राम दरबार से यात्रा का विहंगम स्वरुप दिखायी देगा। सम्पूर्ण रथ यात्रा मार्ग में भगवान एवं भक्तों पर पुष्प वर्षा होगी और सभी भक्तो का स्वागत चन्दन लगाकर, गुलाबजल एवं इत्र छिड़क कर किया जायेगा। रंगोंलियों के माध्यम से रथ यात्रा मार्ग की सजावट की जायेगी। सांस्कृतिक कार्यक्रम में इस्कॉन गर्ल्स फोरम की नृत्य प्रस्तुति होगी। भगवान के विभिन्न स्वरुप में भक्तों द्वारा नारद मुनि, हनुमान जी आदि के दर्शन होंगे। छप्पन भोग के अंतर्गत 256 प्रकार का भोग श्री जगन्नाथ जी को अर्पित किया जायेगा। रथ यात्रा मार्ग में विभिन्न स्थानों पर भक्तों द्वारा भगवान की आरती एवं जलपान वितरण किया जायेगा।

जय जगन्नाथ के जयकारों संग धूमधाम से निकलेगी रथ यात्रा
लखनऊ। कपूरथला के जगन्नाथ मंदिर से भगवान जगन्नाथ 24 फिट ऊंचे रथ पर यात्रा करेंगे। यात्रा दोपहर 12:30 बजे जगन्नाथ मंदिर कपूरथला से निकलेगी। 98 हजार रुपये मूल्य की चांदी की झाड़ू से जगन्नाथ भगवान की यात्रा का मार्ग साफ किया जाएगा। मंदिर के बाद अलीगंज नॉवेल्टी सिनेमा, इंडियन आॅयल चौक, नगर निगम चौराहा 3 कार्यालय, चन्द्रलोक हाइडिल कॉलोनी, नीरा नर्सिंग होम, मिडलैंड क्रॉस होते हुए अलीगंज के नए हनुमान मंदिर पर संपन्न होगी।

चौक:
श्री जगन्नाथ रथ यात्रा एवं नवरात्रि मेला प्रबंधन समिति की ओर से दोपहर एक बजे तीन रथ रवाना किए जाएंगे। जो बड़ी कालीजी मंदिर चौक, नाई बाड़ा, माली खां सराय, कक्कड़ पार्क, चौपटिया, भोलानाथ कुआं, अकबरी गेट, सरार्फा बाजार, चौक चौराहा, कोणेश्वर मंदिर, लाजपत नगर होते हुए कुड़ियाघाट पहुंचेंगे। शाम 5:30 बजे वहां भगवान को गोमती नदी में नौका विहार करवाया जाएगा। वहां से हरदोई रोड, कालीजी बाजार होते हुए यात्रा को वापस बड़ी कालीजी मंदिर लाया जाएगा।

मोतीनगर:
मोतीनगर स्थित श्रीगौड़ीया मठ से जगन्नाथ यात्रा शाम 4 बजे निकाली जाएगी। स्वचालित रथ जगन्नाथ यात्रा में कोलकाता, ओडिशा, मुंबई, दिल्ली, कुरुक्षेत्र, मथुरा, वृंदावन, पटना, मुगलसराय, बनारस, इलाहाबाद से भी मठ के अनुयायी शामिल होंगे। यह यात्रा गौड़ीया मठ से शुरू होकर ऐशबाग, नाका हिण्डोला, बांसमंडी चौराहा, लाटूश रोड, श्रीराम रोड, अमीनाबाद रोड, फतेहगंज, नाका हिंडोला, आर्य नगर, मोतीनगर चौराहा होते हुए वापस श्रीगौड़ीया मठ पहुंचेगी।

ऐशबाग:
श्रीभगवान जगन्नाथ सेवा समिति की ओर से ऐशबाग से शाम छह बजे यात्रा निकाली जाएगी। यह यात्रा कन्हैया लाल रोड, कन्डहा, टिकैतगंज, नेहरू क्रॉस, सिद्धनाथ मंदिर, यहियागंज गुरुद्वारा, मूलचंद रस्तोगी अस्पताल होते हुए फतेश्वर महादेव, नवाबगंज ऐशबाग फाटक, वाटरवर्क्स रोड, पीलीकॉलोनी आईटी कॉलोनी ऐशबाग में सम्पन होगी। इसमें देवी.देवताओं की झांकियां भी शामिल होंगी।

Latest Articles