back to top

अब व्यक्ति को उसके काम से जाना जाता है ना कि बाप के नाम से: ओबरॉय

नागपुर अभिनेता विवेक ओबरॉय ने सोमवार को कहा कि पिछले पांच वर्षों में भारत काफी बदल गया है और अब किसी भी व्यक्ति को उसके काम से जाना जाता है ना कि पारिवारिक विरासत से।

वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर बनी बायोपिक  पीएम नरेंद्र मोदी  के एक पोस्टर के लॉन्च के मौके पर यहां बोल रहे थे। इस पोस्टर को केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने लॉन्च किया। ओबरॉय ने इस फिल्म में अहम भूमिका निभाई है।

उन्होंने बताया कि फिल्म इस शुक्रवार को 40 देशों में रिलीज होगी। ओबरॉय ने कहा कि वह फिल्म में महान व्यक्ति (मोदी) का किरदार निभाने का मौका पाकर सौभाज्ञशाली महसूस कर रहे हैं और खुश हैं कि इसका पोस्टर वरिष्ठ भाजपा नेता गडकरी ने लॉन्च किया।

उन्होंने कहा,   दोनों ही असली  कर्मयोगी  और नायक हैं। पिछले पांच वर्षों में भारत काफी बदला है। मुझे लगता है कि  अब आपके बाप का नाम नहीं..काम चलेगा। ओबरॉय ने कहा कि उन्होंने बायोपिक की रिलीज में काफी मुश्किलों का सामना किया है लेकिन न तो वे फिल्म और ना ही प्रधानमंत्री मोदी को रोक सके।

उन्होंने बिना कोई नाम लिए कहा,   मैं नहीं जानता कि वे किससे डरे हुए हैं-फिल्म से या चौकीदार के डंडे से? जिन लोगों के खिलाफ बड़े मामले हैं और अदालत में दिखाई नहीं देते, वे हमें अदालत में घसीट ले गए।

उन्होंने कहा,  23 तारीख आ रही है..इनका टाइम आएगा..यही कहना चाहूंगा शहजादे जी अब होगा न्याय। एक सवाल के जवाब में उन्होंने उनकी फिल्म को फिल्म उद्योग से समर्थन ना मिलने पर खेद जताया।

अभिनेता ने कहा,  एकता के लिए कोशिशें की जानी चाहिए वरना हमें आसानी से निशाना बनाया जाता रहेगा। फिल्म के प्रोड्यूसर संदीप सिंह ने कहा कि वह गडकरी पर भी एक बायोपिक बनाना चाहते हैं लेकिन नेता इसे लेकर इच्छुक नहीं हैं। इस मौके पर गडकरी ने कहा कि यह फिल्म युवा पीढ़ी को प्रेरित करेगी।

उन्होंने राजग सरकार के विभिन्न विकास कार्यों को गिनाते हुए कहा,   मोदीजी ने भारत को दुनियाभर में पहचान और सम्मान दिलाया। जो चीजें पिछले 50 वर्षों में नहीं हुई वे पिछले पांच साल में हुई।

Latest Articles