back to top

Loksabha Election 2019: वोट बटोरने के लिए भाजपा के सभी नेता बने चौकीदार

भोपाल। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा अपने ट्विटर प्रोफाइल पर अपने नाम के आगे चौकीदार शब्द जोड़ने एवं अपने समर्थकों से मैं भी चौकीदार का संकल्प लेने की अपील करने के कुछ ही घंटों बाद मध्य प्रदेश में भी भाजपा नेताओं एवं कार्यकर्ताओं में मैं भी चौकीदार मुहिम शुरू हो गई है।

लोकसभा चुनाव से ठीक पहले उसी तरह शुरू हुई है

यह मुहिम अप्रैल-मई में होने वाले लोकसभा चुनाव से ठीक पहले उसी तरह शुरू हुई है, जैसे वर्ष 2014 में हुए लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा ने चाय पर चर्चा मुहिम चलाई थी। राजनीतिक गलियारों में मैं भी चौकीदार मुहिम को लोकसभा चुनाव के मद्देनजर महत्वपूर्ण माना जा रहा है। इस मुहिम के तहत मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष राकेश सिंह एवं पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय सहित पार्टी के अनेक नेताओं एवं कार्यकर्ताओं ने अपने-अपने ट्विटर प्रोफाइल पर अपने नाम के आगे कल रात से चौकीदार शब्द जोड़ दिया है। चौहान के ट्विटर प्रोफाइल पर उनका नाम चौकीदार शिवराजसिंह चौहान लिखा हुआ है। चौहान ने ट्विटर में लिखा, देश के विकास की ज़िम्मेदारी हमारी भी है।

https://twitter.com/AmitShah/status/1107163540291571712

प्रति अपने नागरिक कर्तव्यों का पालन करें

इस पावन मातृभूमि के प्रति अपने नागरिक कर्तव्यों का पालन करें। राष्ट्र के नवनिर्माण में भागीदार बनें। आइए, सजग चौकीदार के साथ खड़े हों और देश को गुमराह करने वालों से भारत माता को बचाएं। नव भारत के निर्माण के लिए जुट जाएं। मैं भी चौकीदार। वहीं, राकेश सिंह ने अपने ट्विटर पर लिखा, जिसने भारत का सम्मान पूरे विश्व में बढ़ाया है, वो है देश का चौकीदार। जो आतंक पर करे प्रहार, वो है देश का चौकीदार। जो भ्रष्टाचार पर करे वार, वो है देश का चौकीदार। और इसीलिए मैं भी चौकीदार। वर्ष 2014 में हुए लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने नरेन्द्र मोदी को नीचा दिखाने के लिए चाय वाला कहकर पुकारा था। यह शब्द मोदी के लिए चुनाव में संजीवनी साबित हुआ था।

चाय पर चर्चा मुहिम चलाई थी

इस शब्द के बाद भाजपा ने तब चाय पर चर्चा मुहिम चलाई थी, जिसका फायदा भाजपा को मिला था और कांग्रेस उस चुनाव में बुरी तरह से पराजित हुई थी। तब भाजपा बहुमत के साथ केन्द्र में सत्ता में आई थी और देश में 30 साल बाद किसी एक दल को देश में स्पष्ट बहुमत मिला था। प्रधानमंत्री बनने के बाद मोदी ने भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई लडऩे के लिए अपने आपको देश का चौकीदार कहा था। इसके बाद कांग्रेस ने राफेल लड़ाकू विमान सौदे में हुई कथित भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए मोदी पर निशाना साधते करते हुए कहा था कि देश का चौकीदार चोर है । मोदी ने शनिवार को अपने समर्थकों से अपील की थी कि वे मैं भी चौकीदार का संकल्प लें। उन्होंने कहा था कि वह भ्रष्टाचार और सामाजिक बुराई के खिलाफ लड़ाई में अकेले नहीं हैं।

Latest Articles