back to top

लोकसभा चुनाव 2019 LIVE: तेलंगाना में एक बजे तक 38% से अधिक मतदान

हैदराबाद। आम चुनाव के पहले चरण के तहत तेलंगाना की 17 सीटों पर बृहस्पतिवार एक बजे तक 38 प्रतिशत से अधिक मतदान हुआ। जिन लोगों के राजनीतिक भाग्य का फैसला इन चुनावों में होगा, उन प्रमुख लोगों में पूर्व केंद्रीय मंत्री रेणुका चौधरी और एआईएमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी जैसे धुरंधर भी शामिल हैं।

हैदराबाद में केवल 20.59 फीसदी वोट डाले गए

मेढक में सर्वाधिक 54 प्रतिशत तो हैदराबाद में केवल 20.59 फीसदी वोट डाले गए। तेलंगाना और आंध्र प्रदेश के राज्यपाल ई एस एल नरसिम्हन, मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव, टीआरएस के कार्यकारी अध्यक्ष के टी रामाराव, एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी और फिल्म अभिनेता चिरंजीवी, फिल्म निर्माता एस एस राजमौली समेत कई प्रमुख लोगों ने वोट डाला। राव ने सपत्नीक सिद्घीपेट जिले के चिंतामाढका गांव में वोट डाला। राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी रजत कुमार ने बताया, समूचे तेलंगाना में मतदान प्रक्रिया शांतिपूर्ण ढंग से चल रही है।

चुनाव अधिकारियों ने बताया कि

नारायणपेट के तीलारू गांव में एक मतदान केंद्र पर जहां बुधवार को दस महिला मजदूरों की मिट्टी ढहने से मौत हो गई थी, वहां पर सन्नाटा पसरा हुआ है। अपोलो हॉस्पिटल्स ग्रुप की कार्यकारी उपाध्यक्ष शोभना कामिनेनी ने कहा कि उनका नाम मतदाता सूची में नहीं है। उन्होंने इसे एक भारतीय नागरिक के तौर पर सबसे खराब दिन बताया। चुनाव अधिकारियों ने बताया कि 1.51 प्रतिशत बैलेट यूनिट, 1.71 कंट्रोल यूनिट और 2.21 प्रतिशत वीवीपैट को परीक्षण के समय खराब पाया गया और उन्हें मतदान से पूर्व उन्हें बदल दिया गया। राज्य में 2.97 करोड़ से अधिक मतदाता 443 उम्मीदवारों की राजनीतिक दिशा का फैसला करेंगे।

उग्रवाद से प्रभावित पांच संसदीय क्षेत्रों

उग्रवाद से प्रभावित पांच संसदीय क्षेत्रों के तहत आने वाले 13 विधानसभा क्षेत्रों में मतदान सुबह 7 बजे से शाम 4 बजे तक होगा। निजामाबाद लोकसभा क्षेत्र में सुबह 8 बजे से मतदान शुरू हुआ, जहां 170 से अधिक किसानों सहित 185 उम्मीदवार मैदान में हैं। यहां बड़ी संख्या में किसान अपनी मांगों को लेकर चुनाव मैदान में उतरे हैं। ए किसान हल्दी और लाल ज्वार का समुचित भाव और निजामाबाद में हल्दी बोर्ड के गठन की मांग पर ध्यान आकर्षिक के लिए चुनावी समर में कूदे है। केंद्रीय अर्द्धसैनिक बलों की 145 कंपनियों के अलावा, 55,000 से अधिक पुलिस कर्मियों को सुरक्षा व्यवस्था के लिए तैनात किया गया है।

Latest Articles