back to top

भाजपा जल्द से जल्द राम मंदिर बनाने को कटिबद्ध: अमित शाह

महाराजगंज, जौनपुर (उप्र)। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने शुक्रवार को कहा कि भाजपा राम जन्मभूमि पर जल्द से जल्द श्रीराम मंदिर बनाने के लिए कटिबद्ध है। शाह ने सपा-बसपा और कांग्रेस पर भी निशाना साधते हुए कहा, बुआ (बसपा सुप्रीमो मायावती), भतीजा (सपा प्रमुख अखिलेश यादव) और राहुल बाबा (कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी) राम जन्मभूमि पर अपना स्टैंड (रुख) देश की जनता के सामने रखें। वह महाराजगंज में गोरखपुर क्षेत्र के बूथ अध्यक्षों और कार्यकर्ताओं के सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे ।

घुसपैठियों के मसले पर उन्होंने कहा कि…

घुसपैठियों के मसले पर उन्होंने कहा कि कश्मीर से कन्याकुमारी तक और असम से गुजरात तक, उत्तर प्रदेश से उत्तराखंड तक एक एक घुसपैठिए को चुन चुन कर निकालने का काम भाजपा सरकार करेगी। शाह ने कहा कि देश के अंदर से घुसपैठियों को हटाने का काम मोदी सरकार ने शुरू किया तो कांग्रेस, सपा और बसपा विरोध में आ गए। उन्होंने कहा कि ए घुसपैठिए बुआ-भतीजे के लिए वोटबैंक हो सकते हैं लेकिन हमारे लिए देश की सुरक्षा ही सबसे बड़ी है। उन्होंने विरोधी दलों के गठबंधन पर कहा कि गठबंधन से जरा भी चिन्तित होने की आवश्यकता नहीं है। उत्तर प्रदेश का परिणाम दीवार पर लिखा दिखता है कि इस बार 2019 के लोकसभा चुनाव में 73 की 74 सीटें होंगी। उत्तर प्रदेश की जनता गठबंधन को साफ कर देगी।

बूथ अध्यक्षों और कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा

शाह ने जौनपुर में काशी क्षेत्र के बूथ अध्यक्षों और कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा, एक तरफ मोदी के नेतृत्व में देशभक्तों की टोली है, वहीं दूसरी तरफ ठगबंधन में सभी भ्रष्टाचारी जुटे हैं। उन्होंने कहा कि दो-दो पीढ़ी तक एक दूसरे का मुंह न देखने वाले आज एक दूसरे को हाथी और साइकिल भेंट कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी वंशवाद के आधार पर नहीं, लोकतंत्र के आधार पर चलती है। भाजपा ही ऐसी पार्टी है जिसके चुनाव जीतने का आधार नेता नहीं बल्कि बूथ अध्यक्ष और कार्यकर्ता होता है। शाह ने कहा कि यह भाजपा है जो बूथ पर काम करने वाले एक छोटे से कार्यकर्ता को दुनिया के सबसे बडे राजनीतिक दल का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने का मौका देती है। एक गरीब के घर जन्मा चाय बेचने वाला बेटा भी प्रधानमंत्री बन सकता है।

2019 में फिर से मोदी के नेतृत्व में भाजपा की सरकार बने

उन्होंने कहा कि 2019 में फिर से मोदी के नेतृत्व में भाजपा की सरकार बने, ए देश के गरीब, किसानों, मजदूरों के लिए, समाज के प्रत्एक तबके के साथ साथ भारत को दुनिया की महाशक्ति के रूप में स्थापित करने के लिए आवश्यक है । शाह ने कहा कि वर्षों से देश के पिछडे, अति पिछडे और ओबीसी :अन्य पिछडा वर्ग: लगातार संवैधानिक मान्यता के लिए संघर्ष करते रहे लेकिन कांग्रेस, सपा और बसपा राजनीति करते रहे। भाजपा ने इन पिछड़ा व अति पिछड़ा समाज के बोर्ड को संवैधानिक मान्यता देने का काम किया। उन्होंने कहा कि सपा-बसपा की सरकारों में निजाम राज था। नसीमुददीन भाई थे, इमरान भाई थे, अफजल भाई थे, आजम खान थे और मुख्तार थे। भाजपा ने इन निजामों को उखाडने का काम किया है।

शाह ने कहा कि जब सपा-बसपा की सरकारें थीं

शाह ने कहा कि जब सपा-बसपा की सरकारें थीं तो यहां निजाम चलता था, जिन्होंने मिलकर यहां आतंकवाद का कॉरिडोर बनाया था। लेकिन योगी की सरकार आते ही हमने इनके इस कॉरिडोर को उखाड़ फेंकने का काम किया है । उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार बनने के बाद माफिया यहां से पलायन कर गए हैं । शाह ने कहा कि पूर्वांचल मच्छर और माफियाओं से बहुत परेशान होता था । भाजपा ने स्वच्छता से मच्छर भगाए और योगी ने माफियाओं को भगाया। भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि हम तीन तलाक पर कानून लेकर आए लेकिन कांग्रेस माइनॉरिटी :अल्पसंख्यक: अधिवेशन में महिला कांग्रेस की अध्यक्ष ने कहा कि हम आएंगे तो ट्िरपल तलाक को फिर से ले आएंगे।

यह देश इस तरह से नहीं चलेगा

यह देश इस तरह से नहीं चलेगा। हर महिला को अपने सम्मान का अधिकार है । उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार बनने के बाद गोरखपुर में कई विकास कार्य प्रारंभ हुए। यहां एम्स बना और कई विकास परियोजनाओं की नींव रखी गई । शाह ने कहा कि मोदी ने देश को सुरक्षित करने का सबसे बडा काम किया। पहले जिसे मन होता था, पाकिस्तान से भारत आकर सेना पर हमला कर देता था। उन्होंने कहा कि जिस दिन हमारी सेना अपने जवानों का बदला लेकर आई, उस दिन से दुनिया में बड़ा परिवर्तन आया। पहले अपने दुश्मन से बदला लेने में सिर्फ दो देशों :अमेरिका और इस्राइल: का नाम था लेकिन इनमें तीसरा नाम भारत का जोडऩे का काम भारतीय जनता पार्टी ने किया। शाह ने कहा कि मोदी सरकार ने अपने बजट में देश की सुरक्षा के लिए आजादी से अब तक का सबसे ज्यादा तीन लाख करोड़ रूपए का आबंटन दिया।

इससे पहले प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने

इससे पहले प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सपाबसपा और कांग्रेस को आडे हाथ लेते हुए कहा कि आजादी के बाद से अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में पिछड़े, अनुसूचित जाति और जनजाति के छात्रों को आरक्षण नहीं मिलता था। उन्होंने कहा, सपा, बसपा और कांग्रेस को साफ करना चाहिए कि ऐसा क्यों था । मुख्यमंत्री ने कहा कि बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय में पिछडे, अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति वर्ग के छात्रों को प्रवेश में और नौकरी में आरक्षण मिलता है लेकिन अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में ऐसा नहीं है । उन्होंने कहा कि सभी पार्टियों ने यहां सिर्फ जातिगत राजनीति करके देश को बर्बाद करने का काम किया । भाजपा सरकार आने पर विकास योजनाओं का लाभ सभी जाति-धर्म के लोगों को मिला है इसलिए अब जातिगत राजनीति की दीवारें दरकी हैं ।

Latest Articles