back to top

गांव के चौकीदारों की भाजपा सरकार को कोई चिन्ता नहीं: अखिलेश

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने शुक्रवार को भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि गांव के चौकीदारों की उसे कोई चिन्ता नहीं है। उन्होंने कहा कि केन्द्र में अगर गठबंधन की सरकार बनी तो गांवों के चौकीदार विशेष सम्मान पाएंगे।

आम आदमी की जेब से चोरी हो गई

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भारतीय जनता पार्टी के चौकीदार वाले वक्तव्य और नारे पर तंज कसते हुए अखिलेश ने कहा, किसानों के खाद की बोरी से पांच किलो की चोरी हो गई। आम आदमी की जेब से चोरी हो गई … ऐसे में हमारी जिम्मेदारी बनती है कि चौकीदारों की चौकी छीननी चाहिए। उन्होंने कहा, गांवों के असली चौकीदारों की सरकार को कोई चिंता नहीं है । समाजवादी सरकार में चौकीदारों को सम्मान दिया गया था। केन्द्र में गठबंधन की सरकार बनने पर गांवों के चौकीदारों को विशेष सम्मान दिया जाएगा। भाजपा पर समाज को धर्म और जाति में बांटकर राजनीति करने का आरोप मढते हुए अखिलेश ने कहा कि महागठबंधन नफरत की दीवार को गिराना चाहता है।

अखिलेश ने यहां एक बयान में कहा

अखिलेश ने यहां एक बयान में कहा, भाजपा समाज को धर्म और जाति में बांटकर राजनीति करना चाहती है जबकि महागठबंधन नर्2398ीरत की दीवार को गिराना चाहता है । उन्होंने कहा, महागठबंधन ही बदलाव लाएगा, तभी संविधान सुरक्षित रहेगा और सबको अधिकार मिलेगा। सामाजिक न्याय से ही महापरिवर्तन होगा। सपा अध्यक्ष ने कहा कि भाजपा ने जनता को झूठे सपने दिखाए थे। बदलाव लाने और अच्छे दिनों का वादा कर भाजपा ने जनता को भ्रमित कर दिया। उन्होंने कहा कि सत्ता में आने पर भाजपा के लोग अच्छे दिन भूल गए, नौकरी भूल गए, गन्ना किसानों का 14 दिन में बकाया भुगतान भूल गए। एक बार फिर भाजपा ने घोषणा पत्र नहीं बल्कि धोखापत्र जारी किया है।

अखिलेश यादव ने कहा कि

अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा सरकार की दोषपूर्ण नीतियों से रूपया डालर के मुकाबले कमजोर हो गया। भाजपा ने कहा था कि नोटबंदी से कालाधन, भ्रष्टाचार और बेईमानी समाप्त हो जाएगी लेकिन इसके ठीक उलट देश की अर्थव्यवस्था कमजोर हो गई। उन्होंने कहा कि भाजपा असली मुद्दों की बात नहीं कर रही है। किसानों को सस्ती खाद, फसल की सही कीमत मिलनी चाहिए। किसानों को डेढ़ गुना मुनाफा देने का वादा हवा-हवाई ही साबित हुआ। भाजपा सरकार ने आलू और धान खरीदने की बात कही थी लेकिन उस पर कोई अमल नहीं हुआ। अखिलेश ने कहा कि भाजपा ने नौजवानों के सपने मार दिए। भाजपा नाम और रंग बदलने में व्यस्त है। देश को परिवर्तन के रास्ते पर ले जाने का काम गठबंधन ही करेगा। उन्होंने कहा कि राजनीति में परिवर्तन का मौका बार-बार नहीं मिलता। भाजपा सरकार को पांच साल का हिसाब देना चाहिए।

Latest Articles